हेलो आप सब कैसे हैं
नमस्कार दोस्तों आज मैं आपको गूगल ऐडसेंस के बारे में बताऊंगा विस्तार से. गूगल ऐडसेंस एक ऐसा प्रोग्राम है जो कि गूगल के द्वारा इंट्रोड्यूस हुआ है. इस गूगल ऐडसेंस के प्रोग्राम से सारे लोग अपनी वेबसाइट को मोनेटाइज आने की अपनी वेबसाइट से पैसा कमा सकते हैं. गूगल एड्स शो करके. गूगल ऐडसेंस ऐसा प्रोग्राम है जो कि एड्स में टेक्स्ट के साथ-साथ इमेज और बैनर्स भी शो करता है. जिससे यह नहीं लगता कि यह एक ऐड्स है. शायरी की शायरी एडवर्टाइजमेंट गूगल के द्वारा हैंडल की जाती है.
यह सारी एडवर्टाइजमेंट गूगल के द्वारा एडमिनिस्टर की जाती है यह रेवेन्यू जेनरेट करती है. जोकि पर क्लिक बेसिस या फिर पर इंप्रेशन बेसिस होती है.
पहले एक बार ऑक्शन के थ्रू भी अपना प्रोग्राम किया था. यानी कि लोग वेट करेंगे कि जो जो ऐड्स के ज्यादा पैसा देना चाहता है उन्हीं की ऐड सबसे ऊपर शो हो. लेकिन ऐसा गूगल के प्लेटफार्म के लिए फायदेमंद नहीं रहा. इसीलिए गूगल ने अक्टूबर 2008 में यह डिस्कंटीन्यूड कर दिया था. डबल क्लिक भी गूगल का ही प्रोग्राम है.
गूगल में करीब तिमाही में 2014 में 3 पॉइंट 4 बिलियन की कमाई करी थी. 3 4 बिलियन यानी कि 340 करोड़ डॉलर्स. तो आप इससे अंदाजा लगा सकते हैं कि कितनी कमाई होगी गूगल की खास तौर पर एडवर्टाइजमेंट से. गूगल की सारी एडवर्टाइजमेंट का प्रोग्राम गूगल ऐडसेंस या फिर डबल क्लिक से ही चलता है
जो सर्च इंजंस पर ऐड शो होती हैं एडवर्टाइजमेंट वह भी गूगल की ही होती है. गूगल ऐड शो करने के पैसे लेता है एडवरटाइजर से. और उनको बदले में ट्रैफिक यानी कि टैक्स देता है. जो कि आगे जाकर सेल्स में परिवर्तित हो जाती है एडवरटाइजर्स के लिए. इसीलिए गूगल ज्यादा से ज्यादा एडवर्टाइजमेंट करता है.